Monday, August 29, 2011

मेरी पोती निकिता नागरानी

मेरे बचपन का अक्स

गुड़िया रानी, गुड़िया रानी

तू क्यों भई उदास

बन संवर कर आज है जाना

तुझे पिया के पास

देवी नागरानी


1 comment:

Udan Tashtari said...

बहुत प्यारी बच्ची!!